बोलो जयकारा बोल मेरे श्री गुरु महाराज जी की जय , बोलो श्री नंगली निवासी सत्गुरुदेव भगवान जी की जय

Saturday, July 18, 2015

Ram kaho toh Ram hain, Krishn kaho toh Krishn, Nanak Kaho toh Nanak hain, Kabir kaho toh Kabir.

Jai Jagannath

Heartiest congratulations on the eve of first Nabcalebr festival of this Century on Rathayatra of Lord Jagannath [Lord Krishna], Jai Jagannath, Jagannath swami nayan-path-gami.



4 तरह की सेवा : दिरम, जिस्म, कदम, सखुन



लाला साहबचन्द जी द्वारा रचित आरती और एक विष्णु पद |



पतंजलि ऋषि के चार कौल |


शब्द जागृत अवस्था में सुनाई देता है, ज़िक्र की आवाज़ सुन सकना |



अष्ट सिद्धि और नव निधि |



वज्झन साहब और मियां करीम की 'अलिफ़-बे' के अशआर |








कुण्डलिनी महामाया |


चार किस्म के वर्ताव, चार यार



हज़रत की ज़ियारत |


हज़रत गौस-उल-आज़म अब्दुल कादिर जेलानी |



1,24,000 वली व पैगम्बर |


संत मंसूर और हज़रत शम्स तवरेज़ |



आत्मा भूखा है और ब्रहमाण्ड उसकी थाली है |



Saturday, June 20, 2015

The Ashtadal Kamal in meditation which rotates with the heart and controls us.



The Ten Sounds that the meditator or the Yogi listen from the Anhad Shabd



Architecture or Map of the Cosmos Circle in our Body



Names and Countings of different types of Meditation and Chanting